Chardham Yatra 2023 – चारधाम यात्रा रजिस्ट्रेशन 30 अप्रैल तक रहेंगे बंद

Chardham Yatra 2024 – जैसा कि आप सभी जानते हैं कि करोना महामारी के कारण चार धाम यात्रा को सुचारू रूप से नहीं चल पा रही थी। लेकिन केदारनाथ धाम के कपाट खुलने की तिथि घोषित होने के साथ ही बदरीनाथ, केदारनाथ मंदिर समिति ने यात्रा तैयारियां तेज कर दी है। श्रद्धालुओं को किसी प्रकार की असुविधा ना हो इसके लिए उत्तराखंड सरकार द्वारा Chardham Yatra Registration प्रक्रिया को 2 महीने पहले ही शुरू कर दिया गया है। पर्यटन विभाग ने पंजीकरण की सुविधा के लिए दर्शनार्थियों को चार विकल्प दिए हैं। जो भी श्रद्धालु उत्तराखंड के चारों धामों की यात्रा करना चाहते हैं उन्हें पहले अपना रजिस्ट्रेशन कराना होगा। रजिस्ट्रेशन करने के बाद ही श्रद्धालु चारों धामों की यात्रा कर सकेंगे। इसके लिए उत्तराखंड सरकार द्वारा चारों धामों पर श्रद्धालुओं के लिए स्वास्थ्य सेवाएं एवं अन्य प्रकार की सुविधाएं भी उपलब्ध की जाएगी।

जो भी श्रद्धालु चार धामों की यात्रा करना चाहते हैं तो वह घर बैठे ही ऑनलाइन प्रक्रिया के माध्यम से अपना रजिस्ट्रेशन कर सकते हैंं। अगर आप भी चारधाम यात्रा की सोच रहे हैं तो आपको यह आर्टिकल विस्तारपूर्वक अंत तक पढ़ना होगा। क्योंकि आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से केदारनाथ यात्रा 2023 से संबंधित संपूर्ण जानकारी उपलब्ध कराएंगे। ताकि आप चारधाम यात्रा के लिए रजिस्ट्रेशन कर सके।

Chardham

Uttarakhand Chardham Yatra 2024

6 महीने के लंबे शीतकालीन अवकाश के बाद उत्तराखंड में चार धाम यात्रा को शुरू किया जा रहा है उत्तराखंड के चार धाम केदारनाथ बद्रीनाथ गंगोत्री और यमुनोत्री के दर्शन श्रद्धालुओं के लिए अप्रैल से शुरू हो जाएंगे। आपको बता दें कि भारत में हिंदुओं के सबसे प्रमुख तीर्थ स्थलों में से चार धाम यात्रा उत्तराखंड के पहाड़ों में चार पवित्र स्थल पर होती है। यह पवित्र यात्रा उत्तरकाशी में यमुनोत्री से आरंभ होती है। और उसी जिले में गंगोत्री तक जाती है। यात्रा का तीसरा गंतव्य रुद्रप्रयाग जिले में केदारनाथ मंदिर है। और अंतिम गंतव्य चमोली जिले में स्थित बद्रीनाथ धाम पर जाकर पूरी होती है।

Uttarakhand Char Dham Yatra कुल 1607 किलोमीटर की दूरी तय करती है। इस बार श्रद्धालुओं के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने पर विशेष ध्यान दिया गया है। उत्तराखंड सरकार द्वारा चार धाम यात्रा को लेकर तैयारियां पूरी कर ली गई है। चार धाम यात्रा पर आने वाले यात्रियों को पहले अपना रजिस्ट्रेशन करना होगा। उसी के बाद श्रद्धालु चारों धामों के दर्शन के लिए उत्तराखंड जा सकेंगे।

Tirupati Darshan Tickets Online Booking

Latest Update – केदारनाथ धाम के लिए रजिस्ट्रेशन 30 अप्रैल तक रहेंगे बंद

ऋषिकेश और हरिद्वार में लगातार तेज बारिश के कारण उत्तराखंड सरकार ने केदारनाथ धाम यात्रा करने के लिए रजिस्ट्रेशन को 30 अप्रैल तक बंद कर दिया है। रविवार को गढ़वाल मंडल के अपर आयुक्त एवं चार धाम यात्रा पर प्रशासन संगठन के अपर मुख्य कार्यकारी अधिकारी नरेंद्र सिंह कविरीयाल द्वारा बताया गया है कि पिछले कई दिनों से खराब मौसम एवं भारी बर्फबारी को देखते हुए केदारनाथ धाम के लिए ऋषिकेश एवं हरिद्वार में श्रद्धालुओं का रजिस्ट्रेशन 30 अप्रैल तक के लिए बंद कर दिया गया है। अर्थात केदारनाथ धाम यात्रा हेतु श्रद्धालुओं के लिए 30 अप्रैल तक रजिस्ट्रेशन करने पर रोक लगा दी गई है। सरकार ने यह फैसला लेते हुए कहा है कि चार धाम की यात्रा के लिए तीर्थयात्री मौसम का मिजाज देखकर संभलकर यात्रा करने के बारे में सोच विचार करें। आने वाले दिनों में मौसम की सतत समीक्षा करते हुए केदारनाथ धाम के लिए रजिस्ट्रेशन को लेकर सरकार यात्रियों तथा यात्रा के हित में समुचित निर्णय लेगी।

उत्तराखंड चारधाम यात्रा के बारे में जानकारी

आर्टिकल का नाम Uttarakhand Chardham Yatra
चारधाम स्थल उत्तराखंड
विभाग उत्तराखंड पर्यटन विभाग
लाभार्थी चारधामों की यात्रा करने वाले श्रद्धालु
उद्देश्य श्रद्धालुओं को चारों धामों की यात्रा करने के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की सुविधा प्रदान करना
साल 2023
रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया ऑनलाइन
अधिकारिक वेबसाइट https://registrationandtouristcare.uk.gov.in/

Char Dham Yatra 2023 पर आने वाले लोगों के लिए एयर एंबुलेंस का रहेगा इंतजाम

उत्तराखंड के चारधाम यात्रा में स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने के लिए राज्य सरकार द्वारा केंद्र सरकार से एयर एम्बुलेंस की सुविधा प्रदान करने का प्रस्ताव किया गया था। जिसे केंद्र सरकार द्वारा स्वीकार कर लिया गया है। चारों धामों की यात्रा के दौरान यात्रियों के लिए सरकार और एम्स ऋषिकेश संयुक्त रूप से एयर एंबुलेंस संचालित करेंगे। क्योंकि केदारनाथ धाम के पैदल मार्ग पर चलने वाले श्रद्धालुओं को स्वास्थ्य संबंधी काफी दिक्कतें आती है। अगर ऐसी स्थिति में श्रद्धालुओं की तबीयत खराब होती है तो उसे तत्काल एयर एंबुलेंस के माध्यम से एम्स ऋषिकेश या श्रीनगर मेडिकल कॉलेज उपचार के लिए पहुंचाया जाएगा।

Shegaon Gajanan Maharaj Darshan

चारधाम के कपाट खुलने की तिथि

चारों धामों के दर्शन करने के लिए चारधाम के कपाट को निम्नलिखित तिथि पर खोला जाएगा।

  • 22 अप्रैल को यमुनोत्री का कपाट खोला जाएगा।
  • गंगोत्री में 22 अप्रैल को दर्शन के लिए कपाट खोला जाएगा।
  • वही केदारनाथ में 25 अप्रैल को कपाट खोले जाएंगे।
  • बद्रीनाथ में 27 अप्रैल को भक्तों को दर्शन कराने के लिए कपाट खोले जाएंगे।

Chardham Yatra Uttarakhand के लिए मुख्य बिंदु

  • उत्तराखंड चार धाम यात्रा के लिए उन लोगों को ही पंजीयन करना होता है जो उत्तराखंड के निवासी नहीं होते हैं।
  • उत्तराखंड में रहने वाले लोगों को चारों धामों की यात्रा करने के लिए पंजीकरण की आवश्यकता नहीं है।
  • रजिस्ट्रेशन करने के बाद ही यात्री चार धाम की यात्रा के साथ-साथ उत्तराखंड में कहीं भी घूम सकेंगे।
  • चारधाम यात्रा के लिए यात्रियों को ई पास बनवाने की आवश्यकता नहीं है सभी यात्रियों को सिर्फ अपना रजिस्ट्रेशन कराना होगा।
  • उत्तराखंड की सीमा नारसन में आशा रोड़ी श्रद्धालु अपना पंजीकरण करा सकेंगे। इसके अलावा ऋषिकेश और अलग-अलग यात्रा मार्गो पर भी पंजीकरण केंद्रों की सुविधा उपलब्ध होगी।
  • भीड़भाड़ से बचने के लिए सरकार द्वारा यात्रियों की संख्या को सीमित कर दिया गया है।
  • पहले चरण में चार धाम यात्रा करने के लिए हर रोज केदारनाथ में 9000 रजिस्ट्रेशन किए जाएंगे और बद्रीनाथ में 10,000 रजिस्ट्रेशन किए जाएंगे।
  • चार धाम यात्रा के लिए श्रद्धालु व्हाट्सएप की मदद से भी पंजीकरण करा सकते हैंं।
  • इसके अलावा ऑनलाइन वेबसाइट और व्हाट्सएप माध्यम के अलावा टोल फ्री नंबर भी जारी किया गया है जहां पर संपर्क कर Chardham Yatra के लिए जानकारी प्राप्त कर सकते हैंं।
  • केदारनाथ से यमुनोत्री धाम की पैदल मार्ग पर चलने वाले श्रद्धालुओं के लिए हर 1 किलोमीटर पर स्वास्थ्य शिविर लगाए जाएंगे।
  • उत्तराखंड सरकार द्वारा चार धाम यात्रा पर यात्रियों को स्वास्थ्य सुविधा प्रदान करने के लिए स्वास्थ्य शिविर की पर्याप्त व्यवस्था की जाएगी।
  • इसके लिए शिविरों में डॉक्टरों, विशेषज्ञ डॉक्टरों की व्यवस्था की जाएगी।
  • इन शिविरों में मेडिकल कॉलेज के डॉक्टरों को यात्रा के दौरान तैनात किया जाएगा। जिससे श्रद्धालुओं को ठीक समय पर ही उपचार किया जा सकेगा।
  • सरकार का पूरा प्रयास है कि यात्रा पर आने वाले श्रद्धालुओं को किसी भी प्रकार की स्वास्थ्य सेवाओं के लिए परेशानियों का सामना ना करना पड़े।

Amarnath Yatra 2023

चारधाम यात्रा के लिए रजिस्ट्रेशन करने की प्रक्रिया

  • उत्तराखंड Chardham Yatra के लिए रजिस्ट्रेशन करने हेतु सबसे पहले आपको Tourist Care Uttarakhand की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
Uttarakhand
  • होम पेज पर आपको Register/Login के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करते ही आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
  • इस पेज पर आपको दो ऑप्शन दिखाई देंगे। रजिस्ट्रेशन या लॉगिन
Uttarakhand
  • आपको Register Yourself Here for Chardham and Hemkund फॉर्म में मांगी गई आवश्यक जानकारी को ध्यानपूर्वक दर्ज करना होगा।
  • जैसे आपका नाम, मोबाइल नंबर और आप टूर ऑपरेटर या अकेले या फिर फैमिली के साथ जाना चाहते हैं उस ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको टूर कंपनी का नाम, GST नंबर, पासवर्ड और कंफर्म पासवर्ड दर्ज करना होगा।
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको Sign In के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आपकी चारधाम यात्रा करने के लिए रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

Chardham Yatra लॉगिन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको टूरिस्ट केयर उत्तराखंड की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
  • होम पेज पर आपको Login के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
  • इस पेज पर आपको Login to Your Account में मांगी गई जानकारी को दर्ज करना होगा।
लॉगिन
  • जैसे आपका मोबाइल नंबर, पासवर्ड आदि दर्ज करना होगा।
  • इसके बाद आपको दिया गया कैप्चा कोड दर्ज कर Sign In के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करते ही आपकी टूरिस्ट केयर उत्तराखंड पर लॉगिन करने की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।
  • इस प्रकार आप आसानी से लॉगिन कर सकते हैंं।

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *