पीएम किसान सम्मान सम्मेलन का हुआ उद्घाटन, प्रधानमंत्री ने जारी की PM Kisan 12th Installment

PM Kisan Samman Sammelan Kya Hai। पीएम किसान सम्मान सम्मेलन कब आयोजित किया जाएगा। किसान सम्मान सम्मेलन की विशेषता, उद्देश्य एवं लाभ जाने

आपको बता दें कि हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी 17 अक्टूबर 2022 को भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान (IARI) के पूसा मेला मैदान में दो दिवसीय पीएम किसान सम्मान सम्मेलन का उद्घाटन करने जा रहे हैं। इस बात की सूचना केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान बताई है। इस सम्मेलन में प्रधानमंत्री जी के द्वारा पीएम किसान सम्मान निधि योजना के लाभार्थियों को PM Kisan 12th Installment की राशि जारी की जाएगी। यह राशि लगभग 16 हजार करोड़ रूपए की होगी जो डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के माध्यम से किसानों के खाते में हस्तांतरित की जाएगी।

इसके अलावा इस कार्यक्रम में प्रधानमंत्री रसायन और उर्वरक मंत्रालय के तहत 600 प्रधानमंत्री किसान समृद्धि केंद्रों का उद्घाटन, एक राष्ट्र एक उर्वरक योजना और कृषि स्टार्टअप कान्क्लेव एवं प्रदर्शनी का भी उद्घाटन करेंगे। तो आइए और हमारे इस आर्टिकल के माध्यम से जानिए हैं कि क्या है PM Kisan Samman Sammelan 2024 और इससे जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारियां।

Kisan

PM Kisan Samman Sammelan 2024 क्या है?

मिनिस्ट्री ऑफ एग्रीकल्चर एंड फार्मर वेलफेयर द्वारा पीएम किसान सम्मान सम्मेलन का आयोजन करने जा रही है। यह आयोजन दिल्ली में IARI के पूसा मेला मैदान में 17 और 18 अक्टूबर 2022 को आयोजित किया जाएगा। इसका उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा किया जाएगा। इस सम्मेलन का विषय कृषि का बदलता स्वरूप और तकनीक है। ताकि किसानों को वैज्ञानिक तरीके से खेती करने के लिए नए-नए तकनीकों के बारे में जानकारी दी जा सके। कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय व रसायन एवं उर्वरक मंत्रालय द्वारा आयोजित इस सम्मेलन में प्रधानमंत्री जी करोड़ों किसानों, कृषि स्टार्टअप, शोधकर्ताओं, नीति निर्माताओं, बैंकर एवं अन्य हितग्राहियों को संबोधित करेंगे। यह सम्मेलन किसानों व एग्री स्टार्टअप को साथ जोड़ेगा।

PM Kisan Samman Sammelan के पहले दिन यानी 17 अक्टूबर को प्रधानमंत्री जी के द्वारा स्टोलों पर स्टार्टअप प्रदर्शनी और इंटरेक्शन सेक्शन का उद्घाटन किया जाएगा। दूसरे दिन यानी 18 अक्टूबर को तकनीकी सत्र का आयोजन किया जाएगा।

PM Kisan Beneficiary Status 12th Installment

माननीय केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री @nstomar व केंद्रीय कृषि राज्यमंत्री श्री @KailashBaytu ने मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ मेला परिसर, आई.ए.आर.आई, पूसा नई दिल्ली में आयोजित होने वाले ‘पीएम किसान सम्मान सम्मलेन’ की तैयारियों का निरीक्षण किया। #PMKisan pic.twitter.com/uYe9yeyCcv — Agriculture INDIA (@AgriGoI) October 15, 2022

पीएम किसान सम्मान सम्मेलन Features

सम्मेलन का नाम प्रधानमंत्री किसान सम्मान सम्मेलन
संबंधित विभाग मिनिस्ट्री ऑफ एग्रीकल्चर एंड फार्मर वेलफेयर विभाग
सम्मेलन का विषय कृषि का बदलता स्वरूप और तकनीक
आयोजित दिनांक 17 और 18 अक्टूबर 2022
कहां आयोजित होगा भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान के पूसा मेला मैदान में
उद्घाटन किया जाएगा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा
लाभार्थी किसानो, कृषि स्टार्टअप, शोधकर्ता, नीति निर्माता, बैंकर एवं अन्य हितग्राही
उद्देश्य कृषि क्षेत्र मे वैज्ञानिक तरीके से खेती करने के लिए नई-नई तकनीकों के बारे में जानकारी प्रदान करना

Kisan Samman Sammelan में PMKSY की 12वीं किस्त प्रदान की जाएगी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी पीएम किसान सम्मान सम्मेलन में PMKSY (पीएम किसान सम्मान निधि योजना) के लाभार्थियों को 16000 करोड रुपए की 12 वीं किस्त भी जारी करेंगे। जो लाभार्थियों के बैंक खाते में डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के माध्यम से हस्तांतरित की जाएगी। आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा किसान सम्मान निधि योजना के तहत देश के लघु एवं सीमांत किसानों को हर साल ₹6000 की आर्थिक सहायता दी जाती है। यह आर्थिक सहायता उन्हें साल में 2000-2000 रुपए की तीन सामान किस्तों में उपलब्ध करवाई जाती है। अब सरकार ने PM Kisan Samman Nidhi Yojana e-kYC प्रक्रिया को अनिवार्य कर दिया गया है। इसलिए इस योजना के तहत के जिन लाभार्थियों ने अभी तक अपनी e-kYC प्रक्रिया को पूरा नहीं करवाया है वह ₹2000 की 12वीं किस्त की राशि प्राप्त करने के लिए जल्द से जल्द इस प्रक्रिया को पूरा कर ले।

PM Kisan Beneficiary List में नाम देखें

Pradhan Mantri Kisan Samman Sammelan में 15000 किसान लेंगे भाग

केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर जी ने यह सूचना दी है कि PM Kisan Samman Sammelan में देशभर के 13500 से अधिक किसान और 1500 एग्री स्टार्टअप भाग लेंगे। इसके अलावा इस सम्मेलन में वर्चुअल माध्यम से 1 करोड़ से भी अधिक किसानों को जोड़ा जाएगा। जिसमें 700 कृषि विज्ञान केंद्र, 75 आईसीएआर संस्थान, 75 राज्य कृषि विश्वविद्यालय, 600 पीएम किसान केंद्र, 50,000 प्राथमिक कृषि सहकारी समितियां और 2 लाख सामुदायिक सेवा केंद्र (CSC) जैसे विभिन्न संस्थान शामिल है।

पीएम किसान सम्मान सम्मेलन 2022 का उद्देश्य

इस सम्मेलन को आयोजित करने का मुख्य उद्देश्य किसानों को वैज्ञानिक तरीके से खेती करने के लिए नई-नई तकनीकों के बारे में जानकारी उपलब्ध करवाना है। जिससे किसान आज के बदलते हुए स्वरूप के अनुसार खेती करने में सक्षम हो सकें। इसके अलावा पीएम किसान सम्मान सम्मेलन 2024 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी एग्री स्टार्टअप कॉन्क्लेव और प्रदर्शनी का उद्घाटन, केंद्रीय रसायन एवं उर्वरक मंत्रालय के तहत 600 पीएम किसान स्मृद्धि केंद्रों का उद्घाटन, एक राष्ट्र एक उर्वरक योजना का लॉन्च करेंगे। साथ ही पीएम किसान सम्मान निधि योजना 2024 के लाभार्थियों को 12वीं किस्त भी जारी करेंगे। Kisan Samman Sammelan देश के किसानों व एग्री स्टार्टअप को एक साथ जुड़ेगा। जिससे कृषि के क्षेत्र में एक बड़े पैमाने पर आधुनिक और तकनीकी विचारधारा का प्रचार-प्रसार होगा।

Kisan Samman Sammelan के लाभ एवं विशेषताएं

  • कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय व रसायन एवं उर्वरक मंत्रालय द्वारा IARI के पूसा मेला ग्राउंड में दो दिवसीय पीएम किसान सम्मान सम्मेलन का आयोजन किया जा रहा है।
  • आयोजित होने वाले इस सम्मेलन का विषय कृषि का बदलता स्वरूप और तकनीक है।
  • इस सम्मेलन का आयोजन 17 और 18 अक्टूबर 2022 को किया जाएगा। जिसका उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी करेंगे।
  • इस कार्यक्रम के पहले दिन 17 अक्टूबर को प्रधानमंत्री जी के द्वारा स्टोलों पर स्टार्टअप प्रदर्शनी और इंटरेक्शन सेक्शन का उद्घाटन किया जाएगा।
  • कार्यक्रम के दूसरे दिन 18 अक्टूबर को तकनीकी सत्र का उद्घाटन करके आयोजित किया जाएगा।
  • प्रधानमंत्री जी इस कार्यक्रम मे किसान सम्मान निधि योजना 2024 के लाभार्थियों को 16 हजार करोड़ रुपए की 12वीं किस्त भी जारी करेंगे।
  • Pradhanmantri Kisan Samman Sammelan में 13500 से अधिक किसान को 1500 एग्री स्टार्टअप भाग लेंगे।
  • इसके अलावा वर्चुअल माध्यम से 1 करोड़ से भी अधिक किसानों को जोड़ा जाएगा। जिसमें 700 कृषि विज्ञान केंद्र, 75 आईसीएआर संस्थान, 75 राज्य कृषि विश्वविद्यालय, 600 पीएम किसान केंद्र, 50,000 प्राथमिक कृषि सहकारी समितियां और 2 लाख सामुदायिक सेवा केंद्र (CSC) जैसे विभिन्न संस्थान होंगी।
  • इस कार्यक्रम से किसान बड़े पैमाने पर वैज्ञानिक तरीके से खेती करने के लिए नई-नई तकनीकों के बारे में जानेंगे।

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *