मुख्यमंत्री नगर सृजन योजना लॉन्च करेगी यूपी सरकार, जानें क्या है खास इस योजना में

Mukhymantri Nagar Srijan Yojana – उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने बीते कुछ समय में अपने राज्य में कुछ नए नगर निकायों को‌ गठित किया है और कुछ पुराने नगर निकायों का सीमा विस्तार किया है। अब हाल ही में इन नगर निकायों में रहने वाले नागरिकों को मूलभूत सुविधाएं प्रदान करने के लिए मुख्यमंत्री जी के द्वारा एक योजना को शुरू करने का निर्णय लिया गया है। जिसका नाम मुख्यमंत्री नगर सर्जन योजना है। इस योजना के माध्यम से गठित किए गए नए नगर निकायों और विस्तारित किए गए पुराने नगर निकायों में मूलभूत विकास कार्यों को किया जाएगा। यदि आप यूपी के निवासी हैं और Mukhymantri Nagar Srijan Yojana 2024 से जुड़ी संपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं जैसे कि इस योजना को राज्य में क्यों शुरू किया जा रहा है?, योजना किस प्रकार कार्य करेगी?, इस योजना के लाभ एवं विशेषताएं, इत्यादि तो आप हमारे इस आर्टिकल को अंत तक अवश्य पढ़ें।

मुख्यमंत्री

Mukhymantri Nagar Srijan Yojana क्या है?

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने 27 जुलाई ‌ सन् 2022 बुधवार के दिन मुख्यमंत्री नगर सृजन योजना को शुरू करने का फैसला लिया है। इस योजना के तहत प्रदेश के नवसृजित एवं विस्तारित नगरीय निकायों में मूलभूत कार्य जैसे-पेयजल, सड़क निर्माण, स्कूल, सीवरेज, पार्किंग, स्वच्छता, मार्ग प्रकाश, सामुदायिक केंद्र, चौराहों का सुंदरीकरण एवं आंगनबाड़ी केंद्रों आदि की स्थापना का कार्य किया जाएगा। Nagar Srijan Yojana की खास बात यह रहेगी कि इसके माध्यम से किए जाने वाले कार्यो पर समय-समय पर समीक्षा की जाएगी। साथ ही कार्यों में पारदर्शिता एवं गुणवत्ता का पूरा ध्यान रखा जाएगा और विकास कार्यों में नवाचार प्री फैब/प्री कॉस्ट कंक्रीट निर्माण तकनीकी का उपयोग किया जाएगा।

खेत तालाब योजना उत्तर प्रदेश

Mukhymantri Nagar Srijan Yojana राज्य के नए गठित हुए नगरीय निकायों एवं विस्तारित हुए पुराने नगर निकायों के नागरिकों को जल्द से जल्द बेहतर तरीके से मूलभूत सुविधाएं मुहैया करवाएगी। ताकि वह पर रहने वाले नागरिकों को मूलभूत सुविधाएं प्राप्त करने के लिए ज्यादा इंतजार ना करना पड़े।

मुख्यमंत्री नगर सृजन योजना के बारे में जानकारी

योजना का नाम Mukhymantri Nagar Srijan Yojana
घोषित की गई मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा
घोषित दिनांक 27 जुलाई सन् 2022
लाभार्थी राज्य के नवसृजित एवं विस्तारित नगर निकायों के नागरिक
उद्देश्य मूलभूत विकास कार्यों को बेहतर तरीके से करना
साल 2023
राज्य उत्तर प्रदेश

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना

नवसृजित, विस्तारित अथवा उच्चीकृत नगरीय निकायों में मूलभूत नागरिक सुविधाओं के विकास के लिए ‘मुख्यमंत्री नगर सृजन योजना’ प्रारंभ करने की तैयारी करें।

यह योजना इन नवीन नगरीय क्षेत्रों में सीवरेज, पेयजल, पार्किंग, स्वच्छता, चौराहों का सुंदरीकरण, मार्ग प्रकाश, सामुदायिक केंद्र,…— CM Office, GoUP (@CMOfficeUP) July 27, 2022

Mukhymantri Nagar Srijan Yojana का उद्देश्य

Mukhymantri Nagar Srijan Yojana को लांच करने का मुख्य उद्देश्य उत्तर प्रदेश के नवसृजित एवं विस्तारित नगर निकायों में बेहतर तरीके से प्राथमिक नगरीय सुविधाओं को स्थापित करना है। मुख्यमंत्री जी ने कहा है कि प्रदेश के समग्र विकास करने के लिए शहरीकरण करना अत्यधिक आवश्यक है जिसके लिए कुछ नए नगर निकायों को गठित किया गया है और कुछ पुराने नगर निकायों का सीमा विस्तार किया गया है। अब इन नगर निकायों में मुख्यमंत्री नगर सृजन योजना के माध्यम से नागरिकों के लिए बुनियादी सुविधाएं का निर्माण किया जाएगा। ताकि यहां पर रहने वाले नागरिकों का समग्र विकास हो सके और वह भी बुनियादी सुविधाओं को प्राप्त कर भविष्य के लिए आत्मनिर्भर बन सकें।

Mukhymantri

Mukhymantri Nagar Srijan Yojana के लाभ एवं विशेषताएं

  • उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने 27 जुलाई सन 2022 को राज्य के नए नगरीय निकायों एवं विस्तारित नगर निकायों के कार्य की समीक्षा करते समय मुख्यमंत्री नगर सृजन योजना को शुरू करने का निर्णय लिया है।
  • इस योजना के माध्यम राज्य में बनाए गए नए नगर निकायों और विस्तारित किए गए पुराने नगर निकायों में बुनियादी विकास कार्यों को किया जाएगा।
  • प्रदेश के नवसृजित एवं विस्तारित नगरीय निकायों में बुनियादी कार्य जैसे-पेयजल, सड़क निर्माण, स्कूल, सीवरेज, पार्किंग, स्वच्छता, मार्ग प्रकाश, सामुदायिक केंद्र, चौराहों का सुंदरीकरण एवं आंगनबाड़ी केंद्रों आदि की स्थापना का कार्य इस योजना के माध्यम से किए जाएंगे।
  • इस योजना के माध्यम से किए जाने वाले कार्यों की मॉनिटरिंग भी की जाएगी और कार्यों में पारदर्शिता एवं गुणवत्ता का पूरा ध्यान रखा जाएगा।
  • Mukhymantri Nagar Srijan Yojana 2024 के तहत किए जाने वाले विकास कार्यों में नवाचार प्री फैब/प्री कॉस्ट कंक्रीट निर्माण तकनीकी का इस्तेमाल किया जाएगा।
  • यह योजना राज्य के नए गठित नगर निकायों और विस्तारित नगर निकायों में रहने वाले नागरिकों को बेहतर तरीके से सभी मूलभूत सुविधाओं प्रदान करेगी। ताकि वह भी प्रदेश के अन्य विकासशील नगर निकायों में रहने वाले नागरिकों की तरह मूलभूत सुविधाएं प्राप्त कर एक बेहतर जीवन व्यतीत कर सकें।

मुख्यमंत्री नगर सृजन योजना के तहत पात्रता

  • नवसृजित एवं विस्तारित नगर निकायों के विकास कार्य करने के लिए सरकार द्वारा कंपनियों से टेंडर भरने के लिए कहा जाएगा। इसके बाद इच्छुक कंपनियां अपना टेंडर प्रस्तुत कर सकती है।
  • सरकार द्वारा योजना को शुरू करने के बाद काम करने के लिए दिशा-निर्देश दिए जाएंगे। इन दिशा निर्देशों को ध्यान में रखकर ही काम को शुरू किया जाएगा।
  • प्रीफैब एवं प्रीकास्ट कंकरीट के द्वारा ही सभी विकास कार्यों और निर्माण कार्यों को किया जाएगा।

आवश्यक दस्तावेज

मुख्यमंत्री नगर सृजन योजना के तहत कंपनियों को टेंडर प्राप्त करने के लिए आवेदन हेतु कौन-कौन से दस्तावेज दिखाने होंगे। अभी इस विषय पर सरकार ने कोई भी जानकारी जारी नहीं की है ‌ जब सरकार कंपनियों को टेंडर प्राप्त करने के लिए आवेदन प्रक्रिया में मांगे जाने वाले दस्तावेजों के बारे में बताएगी, तो हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से सूचित कर देंगे। इसलिए आपसे निवेदन है कि हमारे आर्टिकल के साथ जुड़े रहे।

Mukhymantri Nagar Srijan Yojana के तहत आवेदन कैसे करें?

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा इस योजना के तहत नवसृजित एवं विस्तारित नगर निकायों में विकास कार्यों को करवाने के लिए टेंडर प्रक्रिया को चुना गया है। जिसके तहत अनेक गैर सरकारी कंपनियों द्वारा टेंडर भरे जाएंगे और मुख्यमंत्री के दफ्तर में इन गैर सरकारी कंपनियों के द्वारा कोटेशन प्रस्तुत किया जाएगा। सभी कंपनियों के टेंडर प्राप्त हो जाने के बाद सरकार द्वारा अपनी इच्छा अनुसार कंपनी के टेंडर को स्वीकृति प्रदान की जाएगी। इसके बाद स्वीकृत कंपनी द्वारा Mukhymantri Nagar Srijan Yojana के तहत विकास कार्यों को किया जाएगा।


Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *