प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र 2023 – ऑनलाइन आवेदन, पात्रता व जरूरी दस्तावेज

Pradhanmantri Jan Aushadhi Kendra – जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं हमारे देश में कई नागरिक ऐसे हैं जो आर्थिक रूप से कमजोर है। ऐसे सभी नागरिको के लिए ज्यादा कीमत की दवाई खरीदना संभव नहीं है। सरकार द्वारा सभी आर्थिक रूप से कमजोर नागरिकों के लिए प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र खोलने का निर्णय लिया गया है। इस केंद्र पर कम कीमत पर जेनेरिक दवाइयां उपलब्ध करवाई जाएंगी। इस लेख के माध्यम से आपको Pradhan Mantri Jan aushadhi Kendra का पूरा ब्यौरा प्राप्त होगा। आप इस लेख को पढ़कर पीएम जन औषधि केंद्र का उद्देश्य, विशेषताएं, लाभ, पात्रता, महत्वपूर्ण दस्तावेज, आवेदन करने की प्रक्रिया आदि से संबंधित जानकारी प्राप्त कर सकेंगे। तो यदि आप इस योजना से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करने में रुचि रखते हैं तो आप से निवेदन है कि आप हमारे इस लेख को अंत तक पढ़े।

Pradhanmantri

Pradhanmantri Jan Aushadhi Kendra 2024

भारत सरकार द्वारा प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना को आर्थिक रूप से कमजोर नागरिकों के लिए आरंभ किया गया है। जन औषधि केंद्र के माध्यम से नागरिकों को जेनेरिक दवाइयां कम मूल्य पर उपलब्ध करवाई जाएंगी। यह दवाइयां ब्रांडेड दवाइयां जितनी ही प्रभावी होंगी। Pradhanmantri Jan Aushadhi Kendra 2023 योजना को फार्मा एडवाइजरी फोरम द्वारा 23 अप्रैल 2008 को आयोजित बैठक में आरंभ करने का निर्णय लिया गया था। प्रत्येक जिले में योजना के अंतर्गत एक आउटलेट खोलने का निर्णय लिया गया था। देश के 734 जिलों में यह केंद्र खोले जाएंगे।

इस योजना का संचालन फार्मास्यूटिकल एंड मेडिकल डिवाइसेज ब्यूरो ऑफ इंडिया द्वारा किया जाएगा। जिसे वर्ष 2008 में डिपार्टमेंट ऑफ़ फार्मास्यूटिकल के अंतर्गत आरंभ किया गया था। कार्यान्वयन एजेंसी द्वारा देश के नागरिकों के लिए कम कीमतों पर गुणवत्तापूर्ण जेनेरिक दवाएं उपलब्ध करवाई जाएंगी। इसके अलावा केंद्रीय फार्मा सार्वजनिक क्षेत्रों के उपक्रमों और निजी क्षेत्रों से दवाओं की खरीद की जाएगी एवं योजना की निगरानी की जाएगी।

पतंजलि स्टोर कैसे खोलें

प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र का उद्देश्य

Pradhanmantri Jan Aushadhi Kendra का मुख्य उद्देश्य देश के नागरिकों को कम मूल्य पर दवाइयां उपलब्ध करवाना है। इस योजना के माध्यम से जेनेरिक दवाइयां कम मूल्य पर उपलब्ध करवाई जाएंगी। यह दवाइयां ब्रांडेड दवाइयों जितनी ही प्रभावी होंगी। अब देश के सभी आर्थिक रूप से कमजोर नागरिक दवाइयां प्राप्त कर सकेंगे। यह योजना देश के नागरिकों के स्वास्थ्य को सुधारने में कारगर साबित होगी। इसके अलावा इस योजना के माध्यम से देश के नागरिकों के जीवन स्तर में सुधार आएगा। प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र कई नागरिकों को रोजगार का अवसर भी प्रदान करेगी। जिससे कि देश की बेरोजगारी दर में भी गिरावट आएगी।

Details Of Pradhanmantri Jan Aushadhi Kendra 2024

योजना का नाम प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र
किसने आरंभ की भारत सरकार
लाभार्थी भारत के नागरिक
उद्देश्य कम मूल्य पर दवाइयां उपलब्ध करवाना
आधिकारिक वेबसाइट http://janaushadhi.gov.in/index.aspx
साल 2023

प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र के लाभ तथा विशेषताएं

  • भारत सरकार द्वारा प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र योजना का शुभारंभ किया गया है।
  • इस योजना को आर्थिक रूप से कमजोर नागरिकों के लिए आरंभ किया गया है।
  • जन औषधि केंद्र के माध्यम से नागरिकों को जेनेरिक दवाइयां कम मूल्य पर उपलब्ध करवाई जाएंगी।
  • यह दवाइयां ब्रांडेड दवाइयां जितनी ही प्रभावी होंगी।
  • इस योजना को फार्मा एडवाइजरी फोरम द्वारा 23 अप्रैल 2008 को आयोजित बैठक में आरंभ करने का निर्णय लिया गया था।
  • प्रत्येक जिले में योजना के अंतर्गत एक आउटलेट खोलने का निर्णय लिया गया था।
  • देश के 734 जिलों में यह केंद्र खोले जाएंगे।
  • Pradhanmantri Jan Aushadhi Kendra का संचालन फार्मास्यूटिकल एंड मेडिकल डिवाइसेज ब्यूरो ऑफ इंडिया द्वारा किया जाएगा।
  • जिसे वर्ष 2008 में डिपार्टमेंट ऑफ़ फार्मास्यूटिकल के अंतर्गत आरंभ किया गया था।
  • कार्यान्वयन एजेंसी द्वारा देश के नागरिकों के लिए कम कीमतों पर गुणवत्तापूर्ण जेनेरिक दवाएं उपलब्ध करवाई जाएंगी।
  • इसके अलावा केंद्रीय फार्मा सार्वजनिक क्षेत्रों के उपक्रमों और निजी क्षेत्रों से दवाओं की खरीद की जाएगी एवं योजना की निगरानी की जाएगी।
  • 16 मार्च 2022 को सरकार द्वारा यह जानकारी प्रदान की गई कि प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र योजना के अंतर्गत फरवरी 2022 तक 8689 केंद्र खोले जा चुके हैं।
  • इन केंद्रों के माध्यम से प्रदान की गई दवाइयां ब्रांडेड दवाइयों से 50% से 90% कम दाम में प्रदान की जाती हैं।
  • इस योजना के माध्यम से वित्तीय वर्ष 2022- 23 में 814.21 करोड़ की बिक्री की गई है।
  • जिसके माध्यम से नागरिकों की लगभग 4800 करोड रुपए की बचत हुई है।

प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान

प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र के मार्जिन एवं प्रोत्साहन

  • प्रत्येक दवा के एमआरपी पर ऑपरेटिंग एजेंसी द्वारा 20% का मार्जिन प्रदान किया जाएगा।
  • विशेष प्रोत्साहन: महिला उद्यमी, दिव्यांग, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और पिछड़े इलाकों में खोले गए जन औषधि केंद्र के लिए विशेष प्रोत्साहन प्रदान किया जाएगा। उद्यमियों को सामान्य प्रोत्साहन के अतिरिक्त ₹200000 दिए जाएंगे। जिसमें ₹150000 फर्नीचर एवं फिक्सचर के लिए एवं ₹50000 कंप्यूटर, इंटरनेट, प्रिंटर, स्कैनर आदि के लिए प्रदान किए जाएंगे। यह राशि एकमुश्त अनुदान होगी। जिसे बिल जमा करने पर ही प्रदान किया जाएगा। केवल वास्तविक व्यय तक ही यह राशि सीमित होगी।
  • नॉर्मल इंसेंटिव: अन्य उद्यमियों/फार्मेसिस्ट/गैर सरकारी संगठनों आदि द्वारा संचालित प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र को ₹500000 तक का अनुदान प्रदान किया जाएगा। जिसे पीएमबीआई से की गई मासिक खरीद की 15% की दर से प्रोत्साहित किया जाएगा। एक माह में अधिकतम ₹15000 ही प्रदान किए जाएंगे। जिसकी कुल सीमा ₹500000 होगी। यह प्रोत्साहन महिला उद्यमी, दिव्यांग, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, पिछड़े जिलों में खोले गए प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र को भी प्रदान किया जाएगा।

जन औषधि केंद्र खोलने के लिए अनिवार्य संरचना

  • 120 फीट का खुद का या किराए का स्थान उचित पट्टा समझौते या स्थान आवंटन पत्र द्वारा समर्थित प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र चलाने के लिए जगह की व्यवस्था आवेदक को खुद करनी होगी
  • फार्मेसिस्ट हासिल करने का प्रमाण
  • यदि आवेदक महिला उद्यमी, दिव्यांग, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और आकांक्षी जिले के किसी भी उद्यमी की श्रेणी के अंतर्गत है जिसे नीति आयोग द्वारा अधिसूचित किया गया है ऐसे आवेदक को प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना होगा।
  • वह सभी जिले जहां पर जनसंख्या 10 लाख से अधिक है इस स्थिति में दो केंद्रों के बीच 1 किलोमीटर की दूरी होना अनिवार्य है।
  • वह जिले जहां पर जनसंख्या 10 लाख से कम है इस स्थिति में दो केंद्रों के बीच डेढ़ किलोमीटर की दूरी होना अनिवार्य है।

Pradhanmantri Jan Aushadhi Kendra के अंतर्गत एप्लीकेशन फीस

  • इस योजना के अंतर्गत आवेदन पत्र के साथ ₹5000 रुपए की नॉन रिफंडेबल आवेदन शुल्क जमा की जाएगी।
  • महिला उद्यमियों, दिव्यांग, एससी, एसटी और नीति आयोग द्वारा अधिसूचित महत्वकांक्षी जिलों के किसी भी उद्यमी से आवेदन शुल्क की प्राप्ति नहीं की जाएगी।

प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र से संबंधित कुछ महत्वपूर्ण दिशा निर्देश

  • केंद्र संचालक को प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र खोलने से पहले एक एग्रीमेंट साइन करना होगा।
  • प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र को सरकारी दिशानिर्देशों के साथ संचालित किया जाएगा।
  • प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र के नाम से दवा लाइसेंस प्राप्त करना और दवा की दुकान चलाने के लिए अन्य अनुमति प्राप्त करने की जिम्मेदारी आवेदक की होगी।
  • सभी वैधानिक आवश्यकताओं का अनुपालन करने की जिम्मेदारी भी आवेदक की होगी।
  • आवेदक परिसर का उपयोग केवल उसी उद्देश्य के लिए करेगा जिसके लिए वह आवंटित किया गया है।
  • सभी बिलिंग पीएमबीआई द्वारा उपलब्ध कराए गए सॉफ्टवेयर का उपयोग करके की जाएंगी। सॉफ्टवेयर का उपयोग किए बिना किसी भी दवा को नहीं बेचा जा सकता।
  • ऑपरेटर द्वारा पीएमबीआई के उत्पादों के अलावा कोई और दवा बेचने की अनुमति नहीं प्रदान की जाएगी।
  • माल की प्रेषण के लिए अग्रिम भुगतान के विरुद्ध आपूर्ति की जाएगी।

प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना

पीएम जन औषधि केंद्र के अंतर्गत PMBI का रोल

  • इस योजना के उचित कार्यान्वयन के लिए पीएमबीआई द्वारा सभी आवश्यक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • पीएमबीआई द्वारा अपनी आपूर्ति श्रंखला के माध्यम से प्रधानमंत्री भारतीय जन औषधि केंद्र को जेनेरिक दवाइयां, सर्जिकल वस्तु आदि की आपूर्ति की सुविधा भी प्रदान की जाएगी।

प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र खोलने के लिए पात्रता

  • व्यक्तिगत आवेदक के पास डी फार्मा/बी फार्मा की डिग्री होनी चाहिए या फिर डिग्री धारक को नियुक्त करना अनिवार्य है। जिसका प्रमाण आवेदन जमा करते समय या अंतिम अनुमोदन के समय प्रस्तुत करना होगा।
  • यदि प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र को कोई एनजीओ या फिर संगठन खोलना चाहता है तो बी फार्मा या डी फार्मा डिग्री धारक को नियुक्त करना अनिवार्य है एवं आवेदन जमा करते समय या अंतिम अनुमोदन के समय इसका प्रमाण प्रस्तुत करना अनिवार्य है।
  • सरकारी अस्पतालों एवं मेडिकल कॉलेजों में अस्पताल परिसर में प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र खोलने के नियम गैर सरकारी संगठन तथा चैरिटेबल ऑर्गेनाइजेशन को प्राथमिकता प्रदान की जाएगी।

महत्वपूर्ण दस्तावेज

इंडिविजुअल स्पेशल इंसेंटिव

  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • सर्टिफिकेट ऑफ एससी/एसटी या दिव्यांग सर्टिफिकेट
  • फार्मासिस्ट रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट
  • इनकम टैक्स रिटर्न पिछले 2 वर्ष का
  • बैंक स्टेटमेंट पिछले 6 माह की
  • जीएसटी डिक्लेरेशन
  • अंडरटेकिंग
  • डिस्टेंस पॉलिसी की डिक्लेरेशन

इंडिविजुअल

  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • फार्मासिस्ट रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट
  • इनकम टैक्स रिटर्न पिछले 2 वर्ष का
  • बैंक स्टेटमेंट पिछले 6 माह की
  • जीएसटी डिक्लेरेशन
  • डिस्टेंस पॉलिसी की डिक्लेरेशन

इंस्टीट्यूट/एनजीओ/चैरिटेबल इंस्टिट्यूट/हॉस्पिटल आदि

  • एनजीओ की स्थिति में दर्पण आईडी
  • पैन कार्ड
  • रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट
  • फार्मासिस्ट रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट
  • आइटीआर 2 वर्ष का
  • 6 माह की बैंक स्टेटमेंट
  • जीएसटी डिक्लेरेशन
  • डिस्टेंस पॉलिसी की डिक्लेरेशन

गवर्नमेंट/गवर्नमेंट नॉमिनेटेड एजेंसी

  • डिपार्टमेंट की डिटेल
  • पैन कार्ड
  • सपोर्टिंग डॉक्यूमेंट
  • फार्मासिस्ट रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट
  • पिछले 2 वर्षों का आईडिया (प्राइवेट एंटिटी की स्थिति में)
  • पिछले छह माह की बैंक स्टेटमेंट प्राइवेट एनटीटी की स्थिति में
  • जीएसटी डिक्लेरेशन
  • डिस्टेंस पॉलिसी की डिक्लेरेशन

प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र खोलने के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया

प्रधानमंत्री
  • अब आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा।
  • होम पेज पर आपको अप्लाई फॉर PMBJK के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
प्रधानमंत्री
  • इसके पश्चात आपको क्लिक हियर टू अप्लाई ऑनलाइन के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
Application
  • अब आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज खोलकर आएगा।
  • इस पेज पर आपको रजिस्टर नाउ के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपकी स्क्रीन पर रजिस्ट्रेशन फॉर्म खोलकर आएगा।
  • इस फॉर्म में आपका अपना नाम, डेट ऑफ बर्थ, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी, स्टेट, यूजर आईडी पासवर्ड आदि दर्ज करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको सबमिट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र खोलने के लिए आवेदन कर सकेंगे।

प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र खोलने के लिए ऑफलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया

Pradhanmantri
  • इसके पश्चात आपको फॉर्म डाउनलोड करना होगा।
  • अब आपको इस फॉर्म में पूछ गई सभी महत्वपूर्ण जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • इसके पश्चात आपको सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अटैच करना होगा।
  • अब आपको यह फॉर्म संबंधित विभाग में जमा करना होगा।
  • इस प्रकार आ प्रधान मंत्री जन औषधि केंद्र के लिए आवेदन कर सकेंगे।

केंद्र लोकेट करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा।
  • होम पेज पर आपको PMBJP के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको लोकेट केंद्र के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
केंद्र
  • अब आपको अपने राज्य का चयन करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको सर्च के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप केंद्र लोकेट कर सकेंगे।

डिस्ट्रीब्यूटर लोकेट करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा।
  • इसके पश्चात आपकोPMBJP
  • अब आपको लोकेट डिस्ट्रीब्यूटर के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
Pradhanmantri
  • अब आपको डिस्ट्रीब्यूटर टाइप राज्य एवं स्टेटस का चयन करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको सर्च के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप डिस्ट्रीब्यूटर लोकेट कर सकेंगे।

एनुअल रिपोर्ट देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा।
  • होम पेज पर आपको PMBJP के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको एनुअल रिपोर्ट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
प्रधानमंत्री
  • इसके पश्चात आपकी स्क्रीन पर एनुअल रिपोर्ट की सूची खुलकर आ जाएगी।
  • आपको सूची में से अपनी आवश्यकतानुसार विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • एनुअल रिपोर्ट आपके डिवाइस में डाउनलोड हो जाएगी।

फाइनेंशियल रिपोर्ट देखने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा।
  • इसके पश्चात आपको PMBJP के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको फाइनैंशल रिपोर्ट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
फाइनेंशियल
  • इसके बाद आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज खोलकर आएगा।
  • इस पेज पर आपको अपने आवश्यकतानुसार विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • फाइनेंसियल रिपोर्ट आपके डिवाइस में डाउनलोड हो जाएगी।

प्रोडक्ट एवं एमआरपी लिस्ट देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा।
  • अब आपको प्रोडक्ट पोर्टफोलियो के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको प्रोडक्ट एंड एमआरपी लिस्ट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
प्रोडक्ट
  • अब आपको कोड या फिर प्रोडक्ट नेम दर्ज करना होगा।
  • अब आपको क्लिक मी टू सर्च कर विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • संबंधित जानकारी आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होगी।

कंप्लेंट करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा।
  • होम पेज पर आपको सपोर्ट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको केंद्र कंप्लेंट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
प्रधानमंत्री
  • इसके पश्चात आपकी स्क्रीन दिए गए नंबर पर संपर्क करके आप कंप्लेंट दर्ज कर सकते हैंं।

मोबाइल ऐप डाउनलोड करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा।
  • होम पेज पर आपको नीचे स्क्रॉल करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको गेट इट ऑन गूगल प्ले (एंड्रॉयड) या अवेलेबल ऑन द ऐप स्टोर (आईओएस) के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
मोबाइल
  • अब आप को इंस्टॉल के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • मोबाइल ऐप आपके डिवाइस में डाउनलोड हो जाएगा।

संपर्क विवरण देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा।
  • इसके पश्चात आपको कांटेक्ट अस के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
Pradhanmantri
  • अब आपको डिपार्टमेंट का चयन करना होगा।
  • उसके पश्चात आपको सर्च के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • संपर्क विवरण आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होगा।

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *